5 Simple Techniques For vashikaran specialist +91-9779942279




पूरी रात ससुर जी के साथ बिताई। सुबह आंख खुली तो नंगी उनकी बाँहों में सो रही थी। सुबह चली तो लगा कि कल रात मानो पहली बार चुदवाया था।

Mainly, folks use Vashikaran Mantra Yantra with the intention of possess a person intellect and make their function behaviors as per their particular desires. For example, Adore partners, when just one has to experience for another one particular, but they don't seem to be acutely aware of their experience, or a person partner doesn’t get exact experience and affection, in this example Vashikaran mantra is utilised, Because of only possess their thoughts, by that, they can get identical passion, Usually means their desired a single tumble in love with them.

३,तो यही पैसा ठिकाने लगाने के लिए सोनिया जी वो भी"" १४ लोगो कि टीम"" के साथ विदेशो कि यात्रा पर गयी है अपनी बिमारी का बहाना लेकर ..........

और मैं चार दिनों तक मामी के यहाँ रूककर मजे करता रहा।

लाठिया कमर के नीचे तक मारी जा सकती लेकिन लाला जी के सर पर लाठियां क्यों मारी गयी

Pichchila denginchu kontundi.ala twenty nimishalu dengina taruvata naku aipovachindi chellemma annanu tanu pls annaiah na lopale karchey ni lawani ni vedi rassani karchai naa varala pooku bokkalo ani tana nadumu ni vegam ga kadalcha sagindi.

मैंने फिर से लण्ड दीदी की चूत में डाल दिया और दीदी को कहा- अब मुझ में इतना दम नहीं है कि झटके मार सकूँ। आप ही कूद लो मेरे लण्ड पर !

कैसी लगी मेरी कहानी ? मेल जरूर कीजिएगा।

tana yettulu nanu kavinchi vestunnai.yela gaina tananu kaminchalane tapana nalo yekku va chestunnai tana vampu sompulu.tanu acham rati devila namundu tana yevvana chekkilla paina andamina kontey

करिश्मा मस्ती वाली आवाजें निकाल रही थी- पेल दो मेरी चूत को फाड़ डालो फिर मेरी चूत को आ आआआ आअह ऊऊऊऊऊह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह हाँ हाँ जल्दी जल्दी अन्दर बाहर करो, नहाते वक्त एक नहीं चीज़ महसूस हुई कि जब चूत में लण्ड डालो तो जैसे अन्दर आग की भट्टी हो इतना गरम अन्दर और बाहर ठंडा ठंडा पानी !

मामी हंसने लगी और मेरे सीने को सहलाने लगी। इससे मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया। तब मामी मेरे घुटनों पर बैठकर मेरा लंड अपने हाथ में पकड़कर अपनी बुर के दाने पर घिसने लगी और जोर जोर से सीत्कारें भरने लगी। वे मेरे ऊपर बैठी हुईं थी जिससे कि उनकी बुर का पानी मेरे लंड को पूरा भिगो गया था और अब किसी चिकनाई की जरूरत नहीं थी। मामी read more ने मेरे लंड का अपनी बुर के छेद पर निशाना बनाया और धीरे धीरे बैठने लगी।

कभी किसाने के उपर जो अपनी जमीन माँग रहे होते हैं

वो मेरे गुलाबी होंठों को चूसने लगे। वाह ! कितने प्यार से चूस रहे थे ! मैं उठी और उनकी कमीज़ उतार दी। क्या मर्दानी छाती थी !

इधर उसके हाथ मेरे लंड पर कसावट के साथ चलते जा रहे थे और दूसरे हाथ से उसने मेरा हाथ जो उसकी चूत में था उसको पकड़ लिया और मेरे हाथ को वो अपनी चूत में तेज़ी से अन्दर बाहर करने लगी। उसकी चूत ने थोडी देर में ही पानी छोड़ दिया जिसे उसने अपने रुमाल से पोंछ लिया। अब उसकी बारी थी मैंने उसे मेरा लंड मुंह में लेने के लिए बोला तो उसने ना कर दिया। फिर वो मेरी तरफ़ इस तरीके से मुड़ गई कि मैं उसके दूध पी सकूं मैंने उसके दूध पीने शुरू कर दिए, इधर उसने मेरे लंड पर अपना हाथ और तेज़ कर दिया जिससे मेरा पानी निकल जाए पर कमबख्त पानी निकलने का नाम ही नहीं ले रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *